दिल्ली समेत कई राज्यों में होगी बारिश, वैलेंटाइन डे पर कैसा रहेगा मौसम?

weather update today


Weather Update Today: भारत मौसम विज्ञान विभाग के मुताबिक, 13-15 फरवरी के दौरान पूर्वी मध्य प्रदेश, विदर्भ, छत्तीसगढ़, झारखंड, बिहार, पश्चिम बंगाल, और सिक्कम में गरज-चमक के साथ हल्की से मध्यम वर्षा होने की संभावना है। विभाग ने बताया कि 14 और 15 फरवरी को ओडिशा में, 13-15 फरवरी को दक्षिण-पश्चिम उत्तर प्रदेश और दक्षिण पूर्व उत्तर प्रदेश में हल्की से मध्यम बारिश हो सकती है। IMD के मुताबिक,  आज पूर्वी उत्तर प्रदेश, बिहार, झारखंड और उत्तराखंड में ओलावृष्टि की संभावना है।

दिल्ली में आज कैसा रहेगा मौसम?

मौसम विभाग के मुताबिक, दिल्ली में आज आमतौर पर आसमान में बादल छाए रहेंगे। हल्की बारिश या बूंदाबांदी हो सकती है। अधिकम तापमान 24 डिग्री सेल्सियस, जबकि न्यूनतम तापमान 9 डिग्री सेल्सियस रहने की संभावना है। विभाग के मुताबिक, 14 फरवरी को भी हल्की बारिश या बूंदाबादी की संभावना है। वहीं, पश्चिमी विक्षोभ के कारण 17 और 18 फरवरी को पश्चिमी हिमालय क्षेत्र में छिटपुट वर्षा या बर्फबारी होने की संभावना जताई गई है।

सबसे कम न्यूनतम तापमान कहां दर्ज किया गया?

IMD के मुताबिक, उत्तरी मैदानी इलाकों के अधिकांश हिस्सों में न्यूनतम तापमान 7 से 12 डिग्री सेल्सियस के बीच है। उत्तर पश्चिम भारत के कई हिस्सों में यह सामान्य से 2-4 डिग्री सेल्सियस नीचे हैं। सोमवार को सबसे कम न्यूनतम तापमान 3.6 डिग्री सेल्सियस पंजाब के अमृतसर में दर्ज किया गया।

यह भी पढ़ें: इस साल होगी बारिश या पड़ेगा सूखा, मानसून पर अल-नीनो का कितना होगा असर?

शीतलहर का प्रकोप जारी

मौसम विभाग के मुताबिक, हिमाचल प्रदेश के अलग-अलग हिस्सों में शीतलहर का प्रकोप जारी है। वहीं, पूर्वी मध्य प्रदेश, विदर्भ, मराठवाड़ा, ओडिशा और छत्तीसगढ़ में अलग-अलग स्थानों पर ओलावृष्टि दर्ज की गई। विभाग के मुताबिक, पूर्वी मध्य प्रदेश, विदर्भ, छत्तीसगढ़ में कुछ स्थानों पर और मराठवाड़ा, तेलंगाना, झारखंड, ओडिशा और पश्चिम मध्य प्रदेश में अलग-अलग स्थानों पर हल्की से मध्यम वर्षा हुई।

अगले 5 दिनों के दौरान न्यूनतम तापमान में होगा इजाफा

IMD के मुताबिक, अगले 5 दिनों के दौरान उत्तर पश्चिम भारत में न्यूनतम तापमान में धीरे-धीरे 2-4 डिग्री सेल्सियस की वृद्धि होने की संभावना है। अगले 2 दिनों के दौरान पूर्वी भारत के कई हिस्सों में न्यूनतम तापमान में धीरे-धीरे 2-3 डिग्री सेल्सियस की वृद्धि होने की संभावना जताई गई है। हालांकि, मध्य भारत में न्यूनतम तापमान में कोई बदलाव की संभावना नहीं है।

यह भी पढ़ें: ‘श्रीलंका है भारत का हिस्सा’; पड़ोसी देश के मिनिस्टर Harin Fernando बोले- सब कुछ बेचो और आ जाओ





Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *