जयंत चौधरी ने किया NDA में जाने का ऐलान! RLD विधायकों की नाराजगी पर रखी बात

Jayant Chaudhary NDA RLD


Jayant Chaudhary NDA RLD Alliance: चौधरी चरण सिंह के पोते जयंत चौधरी ने NDA में जाने का फैसला लिया है। जयंत चौधरी अब तक इस मामले पर इशारों-इशारों में बात कर रहे थे, लेकिन सोमवार को उन्होंने इस मामले पर अपनी स्थिति साफ कर दी। आखिर जयंत चौधरी की पार्टी राष्ट्रीय लोक दल (RLD) ने एनडीए में जाने का फैसला क्यों लेना पड़ा, इसे लेकर उन्होंने खुद ही खुलासा किया है। सोमवार को जयंत से मीडिया से इसे लेकर खुलकर बात की।

परिस्थितियों को देखते हुए लिया फैसला

उन्होंने कहा- इस फैसले के पीछे कोई बड़ी प्लानिंग नहीं थी। बहुत कम समय में हमें ये फैसला लेना पड़ा। हमने ये फैसला परिस्थितियों को देखते हुए लिया है। हमारे भाव देश और अपने लोगों के लिए अच्छे हैं। हम अपने लोगों के लिए कुछ बड़ा करना चाहते हैं। चौधरी चरण सिंह को भारत रत्न से नवाजा गया है तो हमारा मन प्रफुल्लित है। ये बहुत बड़ा सम्मान है, जो सिर्फ हमारे दल तक ही सीमित नहीं है। ये देश के हर कोने में विराजमान किसान, गरीब और नौजवान का सम्मान है।

नाराज नहीं हैं विधायक 

आरएलडी के कुछ विधायकों के नाराज होने की भी खबरें सामने आ रही हैं। ऐसे में जयंत से इस बारे में भी सवाल पूछा गया। उन्होंने कहा- किसी भी मीडिया चैनल ने इस तरह की खबर निकाली है, मैं नहीं समझता कि उन्होंने हमारे विधायकों से बात भी की है। मैंने अपने सभी विधायकों और कार्यकर्ताओं से इसके बारे में बातचीत की है। उसके बाद ही ये फैसला लिया। क्या अजीत सिंह की जयंती पर NDA में आधिकारिक रूप से शामिल होने की तारीख की घोषणा की जाएगी? जयंत इस सवाल को हंसकर टाल गए।

आने वाले चुनावों को लेकर फैसला!

जयंत चौधरी के बयान से जाहिर है कि उन्होंने आने वाले चुनावों को लेकर ये फैसला लिया है। राष्ट्रीय लोकतांत्रिक दल को वैसे तो पिछले चुनावों में कोई खास फायदा नहीं हुआ, पिछले चुनाव में उन्हें किसी भी सीट पर जीत नहीं मिली, लेकिन अब आरएलडी एनडीए के सहारे अपना राजनीतिक भविष्य संवारना चाहती है।

किसान बोला- एनडीए में सब कुर्सी के लिए जा रहे हैं

दूसरी ओर, जयंत चौधरी के इस फैसले के बाद किसानों की भी राय सामने आई। बुलन्दशहर में जयंत चौधरी के बीजेपी में शामिल होने पर जहां कुछ किसान खुश नजर आए तो वहीं कुछ ने इसे किसानों के भविष्य का फायदा बताया। एक किसान ने कहा कि एनडीए में सब कुर्सी के लिए जा रहे हैं। किसानों को तो कोई फायदा नहीं मिल रहा है। उन्हें कृषि उपज पर एमएसपी का फायदा नहीं मिल रहा है। सरकार किसानों से गन्ना कम कीमत पर खरीद रही है।

यह भी पढ़ें: भारत रत्न के पंचामृत के सहारे इस चुनाव BJP करेगी 400 का आंकड़ा पार!

किसान ने कहा- जाटों की वैल्यू बढ़ जाएगी

वहीं एक किसान बोला- जयंत चौधरी के बीजेपी में शामिल होने से जाटों की वैल्यू बढ़ जाएगी। वहीं एक किसान बोला- जयंत के बीजेपी में जाने से किसानों की आवाज को मजबूती मिलेगी। जीत को लेकर आश्वस्त एक किसान ने कहा- लोकसभा चुनाव में फायदा होगा। नरेंद्र मोदी पीएम बनेंगे। हालांकि कुछ किसान ट्यूबवेल के बिल को लेकर खफा भी नजर आए।

ये भी पढ़ें: समय-समय पर भाजपा को कोसते रहते हैं जयंत चौधरी, जानिए कब-कब दिए भाजपा विरोधी बयान





Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *